Colors
 
गुरूकुल कांगड़ी विष्वविधालय के प्रबन्धन विभाग में पोस्टर प्रतियोगिता सम्पन्न
By admin On 20 Sep, 2013 At 04:35 AM | Categorized As Uttarakhand | With 0 Comments

काटर्ून या पोस्टर की लिपि और भाषा के मोहताज नहीं – डा0 सुरेन्द्र कुमार
जिसने समय को साध लिया उसने जीवन के कैरियर और समाज सबको साध लिया- डा0 राधिका नागरथ
काटर्ून व पोस्टर ऐसी विधा है जो हमारे जीवन के भीतर छिपे भावों को बड़े शानदार ढंग से उकेरती है – राजन सिंह
जीवन में समय का बहुत महत्व है – प्रो0 पंकज मदान
हरिद्वार। गुरूकुल कांगड़ी विष्वविधालय के कुलपति डा0 सुरेन्द्र कुमार ने कहा कि काटर्ून या पोस्टर की कोर्इ लिपि नहीं होती है। परंतु काटर्ून व पोस्टर पूरी दुनियां में अपने भावों की अभिव्यकित बड़े ही प्रभावी ढंग से व्यक्त करते हैं। काटर्ून व पोस्टर भाषा से ऊपर उठकर है।
कुलपति डा0 कुमार आज गुरूकुल कांगड़ी विष्वविधालय के प्रबन्धन विभाग द्वारा आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि इस तरह की प्रतियोगितायें आयोजित करने से षिक्षिकों व छात्रों के बीच आपसी सम्बन्ध और प्रगाढ़ होते हैं और षिक्षकों को छात्रों को और छात्रों को षिक्षकों को जानने और समझने का और अधिक मौका मिलता है। विष्वविधालय के कुलसचिव एस0के0 चोपड़ा ने कहा कि पोस्टर प्रतियोगिता हमारे अंदर छिपी प्रतिभाओं को और ज्यादा उभारने का अवसर प्रदान करती है।
मुख्य वक्ता राजन सिंह ने कहा कि काटर्ून व पोस्टर ऐसी विधा है जो हमारे जीवन के भीतर छिपे भावों को बड़े शानदार ढंग से उकेरती है। राजन ने कहा कि इसीलिये दुनियां के बड़े-बड़े काटर्ूनिस्ट हमेषा याद किये जाते हैं। जिनके काटर्ून समाज की महत्वपूर्ण घटनाओं की अभिव्यकित समाचार पत्र-पत्रिकाओं के एक कोने में पूरी तरह कर देते है।
विषिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुए अंग्रेजी साहित्य की प्रसिद्ध लेखिका एवं वरिष्ठ पत्रकार डा0 राधिका नागरथ ने ”टार्इम मैनेजमेंट के महत्व को बताते हुए कहा कि जिसने समय को साध लिया उसने जीवन के कैरियर और समाज सबको साध लिया। डा0 नागरथ ने कहा कि जीवन में कोर्इ भी प्रगति ”सीधी रेखा की तरह नहीं होती है। प्रगति हमेषा घुमावदार तरीके से यानि ‘सर्कल में होती है। जीवन एक सर्कल है। उन्होंने कहा कि बीता हुआ कल वर्तमान को प्रभावित करता है और वर्तमान भविष्य को। डा0 नागरथ ने युवा पीढ़ी से आहवान किया कि वे वर्तमान का महत्व समझे और वर्तमान का सही उपयोग करते हुए अपने जीवन का कुषलता के साथ प्रबन्धन करें। साथ ही साथ हर पल का महत्व समझते हुए टार्इम मैनेजमेंट करना चाहिये। डा0 राधिका नागरथ ने कहा कि यदि हमें लक्ष्य हासिल न हो तो हमें घबराना नहीं चाहिये। बलिक आगे बढ़ते रहने का नाम ही जिंदगी है। उन्होंने कहा कि बीती हुर्इ असफलता को बार-बार सोचकर समय गंवाने से बेहतर आगे के लिये तैयारी करनी चाहिये। खोया हुआ समय वापिस नहीं आता है। यही समय के जीवन प्रबन्धन का असली सार है। इस अवसर पर प्रबन्धन विभाग के डीन प्रो0 वी0के0 सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन संचित ने किया और आभार प्रो0 पंकज मदान ने किया। प्रो0 मदान ने कहा कि जीवन में समय का बहुत महत्व है। इस अवसर पर आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार गुरूकुल कांगड़ी विष्वविधालय ने बीबीए के छात्र किंषुक शर्मा को 3100 रुपये प्रदान किया गया। 2100 रूपये दूसरा पुरस्कार कन्या गुरूकुल देहरादून की छात्रा अर्चना और तीसरा पुरस्कार 1100 रूपये गुरूकुल कांगड़ी विष्वविधालय के इतिहास विभाग के छात्र नूर मौहम्मद को दिया गया। प्रतियोगिता के जज एस0सी0 धमीजा, डा0 करूणा शर्मा व प्रवीन गोयल ने पोस्टर प्रतियोगिता की सराहना की। कार्यक्रम को सफल बनाने में डा0 बागीष पालीवाल की अहम भूमिका रही।

About -

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>


Powered By Indic IME

Hit Counter provided by orange county property management