Colors
 
जानिए गैरसैंण को राजधानी बनाये जाने को लेकर किसने किया आर—पार की लडाई का ऐलान
By Gaurav Kashyap On 15 Apr, 2018 At 09:29 AM | Categorized As Dehradun, Uttarakhand | With 0 Comments

  • गौरव कश्यप

देहरादून 15 अप्रैल। गैरसैंण को राजधानी घोषित करने की मांग को लेकर युवा उक्रांद ने  प्रदेश के हजारों युवाओं के साथ आरपार की लड़ाई का एलान किया है। पत्रकार वार्ता में  केंद्रीय महामंत्री युवा उक्रांद सुशील कुमार ने कहा कि प्रदेश में दो राजधानी स्वीकार्य नहीं हैं। सरकार गैरसैंण को जल्द स्थायी राजधानी घोषित करे। केंद्रीय अध्यक्ष युवा उक्रांद सुशील उनियाल ने कहा कि राज्य से लगातार पलायन हो रहा है। शिक्षा, स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने में सरकार नाकाम साबित हुई है। आधी आबादी के प्रति सरकार संवेदनहीन बनी है।

उन्होंने बताया कि 18 सालों से कांग्रेस-भाजपा ने राज्य में शासन किया, लेकिन अब तक गैरसैंण को राजधानी घोषित नहीं किया है। विधायक और सांसद स्थायी राजधानी पर रुख स्पष्ट करें। उन्होंने कहा कि राज्य में प्राकृतिक संसाधनों की लूट हो रही है। आपदा प्रभावित खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं। जिंदल जैसे उद्योगपतियों को बेशकीमती जमीन दी जा रही हैं। पूंजीपति, माफिया और राजनेताओं के गठजोड़ राज्य की अस्मिता से खेल रहे हैं। पंचेश्वर जैसे बड़े बांध बनाकर जैव विविधिता और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। ऑल वेदर रोड के नाम पर लाखों पेड़ काट दिए गए हैं। प्रदेश सरकारों ने आज तक प्रदेश का शोषण करने का कार्य किया है। चुनाव के समय प्रचंड बहुमत की सरकार, जनता के समक्ष ये वादा किया था की सरकार निर्माण के बाद गैरसैंण को स्थाई राजधानी घोषित किया जायेगा, लेकिन  सरकार के लगभग  एक साल के कार्यकाल के बाद भी सरकार राजधानी के मुद्दे निर्णय लेने मैं झिझक रही है।

सरकार का स्थाई राजधानी पर चुप रहना, उत्तराखंड की जनता के साथ धोखा है। केंद्रीय महामंत्री सुशील कुमार ने कहा की युवा उक्रांद प्रदेश की समस्त युवा शक्ति से आवाहन करता है की २० मार्च प्रदेश के समस्त युवा जयादा से ज्यादा संख्या में गैरसेंड में पहुंच कर स्थाई राजधानी की मांग के लिए सरकार के समक्ष सशक्त रूप में अपनी आवाज को रखे, ये आरपार की लड़ाई है स्थाई राजधानी गैरसैंण ही पर्वतीय क्षेत्र के अस्तित्व को बचने का अंतिम विकप्ल है।

About -

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>


Powered By Indic IME

Hit Counter provided by orange county property management