Colors
 
डॉ राधिका नागरथ की कलम से—सफरनामा
By Gaurav Kashyap On 4 May, 2018 At 06:42 AM | Categorized As Travels | With 0 Comments

FB_IMG_1476889806838

हैलोवीन डे और भारतीय त्योहार

बुराई पर भलाई की जीत, पाप पर पुण्य की विजय ऐसा भारतीय त्योहारों में भी निहित है। चाहे होलिका दहन हो या दशहरा सब इसी के प्रतीक हैं। कनेडियन लोग भी हैलोवीन डे पर जो 31 अक्तूबर को मनाया जाता है उसे खूब पार्टी के साथ मनाते हैं। इस खुशी में कि उन्होंने साल भर के लिए अशुभ, हानिकारक तत्वों को दूर कर दिया है, वे यह दिन मनाते हैं। अपने दोस्तों के घर पर, होटल में पार्टीज में लोग विचक्राफ्ट ( भूतप्रेत ) जैसा अजीब चमकते हुए परिधान पहनते और खाते पीते मौज मनाते हैं। मुझे भी अपनी दूर की कज़न बहन मीना के घर जाने का मौका मिला। मारखम वाली बहन के परिवार के साथ हम उनके घर एक घंटा ड्राइव करके पहुँचे। मीना ने अपने घर में मोम के दिए जला रखे थे, एक डैकोरेटिव स्टंैड पर उसने खाने में कोई डिश बेक करक रखी थी और साथ में ड्रिंक्स ली और खाने की बारी आई तो एक बड़ा प्रश्न चिन्ह सबके आगे उपस्थित हो गया।
मेरी बहन ने तो इटैलियन खाना बनाया था जो ओवन मेें बेक होता पर हमारे ग्रुप में एक छोटा बच्चा था 4 वर्ष का जिसे डाक्टर ने भारतीय तवे की रोटी ही खाने की सलाह दी थी। आटा गूंथ लिया गया लेकिन सवाल था रोटी कैसे बेली जाए। फिर हम लेडीज़ ने मिलकर किचन में ढूँढा तो एक खाली वाईन बोतल मिल गई जिससे रोटी बेल कर एक परांठा फ्राईंग पैन मे सेका गया। संकट टल गया।

IMG_0664

रोटी बनाने के लिए बेलन का जुगाड़ वाईन कास्केट से

मीना के दो लड़के हैं जो अपने पिता के पास रहते हैं और कभी कभी मां के यहां आते हैं। एक का नाम ऋषि है जब मैंने उस बच्चंे से पूछा कि क्या वह अपने नाम का मतलब जानता है तो उसने कहा नहीं, मेरे बताने पर वह मुस्कराया और बोला कि वह उसे याद रखेगा। पीना पिलाना शायद कनेडियन कल्चर का मुख्य अंग है। ऋषि बोला कि वह थोड़ा ’डिजी’ महसूस कर रहा था क्योंकि कल पेपर पूरा होने के बाद बीया लिया था रात में और उसने अगले दिन अभी उसका हैंग ओवर खत्म नहीं हुआ था।
मंैने बैठने के लिए योगा बाल चुना था जिस पर इधर उधर हिलने डुलने में बहुत आनंद आ रहा था। पर मुझे चेतावनी दी गई कि कहीं हिलते डुलते मैं डाइनिंग टेबल के साथ लगी क्रिस्टल गिलासों की लाईन मत तोड़ देना। बड़े महंगे है और हैलोविन डे के लिए खास मंगाए गए हैं।

IMG_0662

meena di

नकली नाक, चश्मा, विॅच (भूत प्रेत)  बनने के लिए, हैलोवीन डे पार्टी में मीना दीदी और उनकी सहेलियाँ

डिनर के बाद पंख वाली लाल टोपी पहन मैंने खूब फोटो खिंचाई। मेरी बहन मीना ने तो ईजिपशियन क्वीन की गोेल्डन रंग की ड्रैस पहनी थी और हमने खूब डांस किया। अगले दिन मेरी वापसी थी और आने से पहले जिस भी शापिंग स्टोर में गई, कददू विभिन्न आकारों में दिखाई पड़ें। कददू बड़े से बड़े और छोटे से छोटा एयरपोर्ट लांज और रिसैप्शन डैस्क पर भी विराजमान था। अगर इसके ऐतिहासिक रूप को जानें तो कददू के आकार में बुरी आत्मा को घर के बाहर लटका दिया जाता है उन्हें भगाने के लिए। कास्टयूम पार्टीज़ में लोग मास्क लगा एक दूसरे के संग हंसते गाते हैं। पुरातन हारवैस्ट फैस्टिवल के रूप में शुरू हुआ था यह ा जब औटम सीज़न खत्म होता है तो ज़िन्दगी को एक उत्सव के रूप में मनाने का संदेश देता है। बाग में से सेब तोड़ने और फसल काटने और पशुओं को उनके चारागाह में वापिस लाने की खुशी में मनाते हैं, यह आने वाली बर्फबारी से पहले खुशी मनाकर खुद को तैयार करने का भी उत्सव है।
कद्दुओं की बहार थी ऐयरपोर्ट लौंज, आॅफिस रिसेपशन, डिपार्टमैंटल स्टोर्स से लेकर लोगों के धर के बाहर तक विशाल काम कद्दू जिनपर तराशा गया था इंसानी चेहरा, जिसमें आंखें, नाक होंट सब काट काट कर बनाए गए थें। माल की ऐंट्रेस हो या फिर घर के आंगन का पेड़ सब पर कद्दू विराजमान था। यह हेलोवीन डे के उत्सव पर सारा कनेडा मानो कद्दू के रूप में दुरात्माओं को भगाने में लगा था।

IMG_0534 IMG_0535

IMG_0434

 

 

 

About -

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>


Powered By Indic IME

Hit Counter provided by orange county property management