Colors
 
मेरे आश्रम पर भाजपा नेत्री और उनका बेटा कब्जा करना चाहते हैं—स्वामी दिव्यानंद महाराज
By Gaurav Kashyap On 28 Apr, 2019 At 08:45 AM | Categorized As Haridwar, Uttarakhand | With 0 Comments

Screenshot_20190428-135056_Video Player

गौरव कश्यप
हरिद्वार 27 अप्रैल। भूपतवाला में स्थित स्वामी दिव्यानंद महाराज के आश्रम में भाजपा की सभासद सुनीता शर्मा और उसका बेटा विदित शर्मा कब्जा करना चाहते हैं उन्होंने महाराज जी के खिलाफ महिला का सहारा लेकर आरोप लगाए। यह आश्रम गुजरात के रहने वाले स्वामी का है उन्होंने कुछ महीने पहले महाराज पर हमला किया था। तब इनका पैर टूटा था इन महाराज जी ने एसएसपी को शिकायत की है परंतु राजनीति दबाव में मुकदमा दर्ज नहीं हो पा रहा है महाराज का कहना है कि विदित मैं उनके आश्रम जबरन कब्जा करने का प्रयास किया और जब उन्होंने इसका विरोध किया तो उन पर गलत आरोप लगाने शुरू कर दिया।
आज मातृ सदन के स्वामी शिवानंद सरस्वती महाराज स्वामी दिव्यानंद के भूपतवाला स्थित आश्रम में उनसे मिलने गए और उन्हें अपना समर्थन देते हुए स्वामी चिदानंद सरस्वती जी ने कहा कि वह सत्य के साथ हैं और उनका पूर्ण समर्थन स्वामी दयानंद जी को है। किसी भी असामाजिक तत्व या किसी भी राजनीतिक पार्टी के नेता चाहे वह किसी भी पद पर हो उसे स्वामी दिव्यानंद जी के आश्रम में कब्जा नहीं करने दिया जाएगा उन्होंने कहा कि हरिद्वार में भाजपा के विधायक मंत्री हैं और भाजपा की सरकार में संतो के आश्रम में भाजपा के लोग ही गुंडागर्दी करके कब्जा करना चाहते हैं। यह सनातन धर्म और संतो पर एक तरह से हमला है जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने प्रशासन को जीता ते हुए कहा कि प्रशासन तुरंत गुंडागर्दी करने वाले तत्वों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करें और उनके खिलाफ कार्रवाई करें स्वामी शिवानंद सरस्वती जी ने कहा यह दुख की बात है। स्वामी दिव्यानंद जी ने असामाजिक तत्वों के खिलाफ एसएसपी हरिद्वार को लिखित में शिकायत भेजी, परंतु पुलिस प्रशासन उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। इससे साबित होता है प्रशासन असामाजिक तत्वों से मिला हुआ है या फिर राजनीतिक दबाव में संतों की रक्षा करने में असमर्थ दिखाई देता है स्वामी दयानंद जी ने कहा उनके आश्रम में आज स्वामी शिवानंद सरस्वती जी उन्हें अपना समर्थन देने और आशीर्वाद देने आए, उससे उनका मनोबल बढ़ा और संतों की सुध लेने वाला कोई संत उनकी मदद के लिए सामने आए। उन्होंने कहा कि मातृसदन से उनका कई सालों से संबंध है स्वामी शिवानंद सरस्वती ने कहा स्वामी दिव्यानंद उनके आश्रम से कई सालों से जुड़े हुए हैं और बात सदन उनका पूर्ण समर्थन करता है स्वामी शिवानंद सरस्वती जी के साथ ब्रह्मचारी दयानंद जी स्वामी स्वामी पूर्णानंद जी और स्वामी पुण्या नंद महाराज भी भी स्वामी दिव्यानंद महाराज के आश्रम में गए।

About -

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>


Powered By Indic IME

Hit Counter provided by orange county property management