Colors
 
मैक्गिल यूनीवर्सिटी में फ्रैंच कल्चर से रूबरू
By Gaurav Kashyap On 22 Mar, 2018 At 11:25 AM | Categorized As Religion, Travels | With 0 Comments
fall season 2

In Canada, exploring culture

 

 

FB_IMG_1476889909138

Inside Mc Gill University where conference was held

मैक्गिल यूनीवर्सिटी में फ्रैंच कल्चर से रूबरू

फ्रैंच कल्चर से मैं रूबरू पहली बार हुई कनेडा की क्यूबैक प्रोविंस स्थित मैक्गिल यूनिवर्सिटी में । अभी तक ग्रैडयूएशन के दौरान फ्रैंच पढ़ी थी किन्तु यहाँ तो सभी स्ट्रीट के नाम (रयू) से थे और मोंरोयल जिसे हम मौंट्रीयाल कहते अपनी जुबान में, वास्तव में दो शब्दों से बना है। मौं यानि ( माऊंटेन ) और रोयाल यानि ( रौयल ) शाही । पहला सैशन चैपल में था। यूनिवर्सिटी के अंदर ही बहुत खूबसूरत चैपल था जहाँ दीवारों पर गोथिक आरकीटैक्चर की झलक दिख रही थी और ऊंची गलास पेंटिंग पर ईसा मसीह के जीवन से संबंधित चित्रकारी थी। लंबे-लंबे बेंच थे बैठने को और सभी अपने कोट हैट बाहर रखी लकड़ी की हैंगर पर टांग रहे थे। चैपल के अंदर जूते लेकर ही सब जाते और चुपचाप सीट पर बैठ जाते। कैसा अद्भुत और सौम्य वातावरण था। पहले किसी कांन्फ्रैंस में ऐसा नहीं हुआ था मेरा अनुभव। शायद यह सैंटर फार रिलिजस स्टडीज़ ने आयोजित की थी इसलिए शुरूआत पूजा के स्थान से हुई।

20 अक्टूबर को मेरी प्रेज़ेटेशन थी। सुबह आठ बजे हमें बेकर्स बिल्डिंग पहुँचना था। थामसन हाऊस से कोऔरडिनेटर 5 मिनट पहले ही निकल चुका था। अब कैंपस में हेनरी बर्क्स बिल्डिंग कहाँ खोजी जाए। खूब सारी ट्रेफिक लाइटस, अलग-अलग स्ट्रीट मेप, कोई नज़र नहीं आ रहा था। एक, दो ,चार कुल पांच ऐसे डैलीगेटस हम उस क्रासिंग पर खोए हुए से जमा हो गए थे जिनका लक्ष्य उस बिल्डिंग तक पहुँचने का था। अमेरिका से आई एक युवा लड़की ने फट अपना मोबाइल निकाला और जीपीएस को चालू कर बर्क्स बिल्डिंग खोजा लेकिन वो लोकेट नहीं हुआ। तभी एक कोरियन प्रोफेसर वहाँ आए और उन्होंने ही हम सबका मार्गदर्शन किया।

FB_IMG_1476889900688

Conference Mixer

मफिन्स और काफी का ब्रेक फास्ट उस ठंड में बेहद सुकून देने वाला था। यूनिवर्सिटी बोर्ड रूमज़ में एक से बढ़कर एक किस्म की वाल पेंटिग्ज़ लगी थी। अपने च्वाइस का टापिक देख मैं भी एक बोर्ड रूम में चली गईं। और उस दिन के सैशन्स का लुत्फ उठाने लगी। मेरी खुद की प्रेजे़टेशन लंच के बाद थी। वैजीबेटल सूप, पीटा ब्रेड उन पुराने स्टाईल की करोकरी में सर्व किया गया। ऐसी पुराने ढंग के बड़ी सूप प्लेटस मेरी माँ की शादी के डिनर सैट में भी थीं जो हमने पुराने फैशन की होने के कारण गरीबों में बाँट दी थीं।

हमारे  शैडयूल के मुताबिक अब कान्फ्रैंस मिक्सर इवैंट बचा था। मैंने सोचा शायद यह आपस में मेल जोल को कान्फ्रैंस मिक्सर कहते हैं। नीचे हाल में सुंदर आकृति वाली बोतलें रखी थीं जिनमें कुछ 10 मि0ली0 से 100 मि0ली0 की शीशीयाँ भी थीं। बाहर से देखने में तो यह सजावट की वस्तुएँ ही लग रही थीं। इतनी सर्दी में ढेर सारी बर्फ डालकर लोग तरह-तरह की वाइन्स का मज़ा ले रहे थे।

IMG_0203

स्टूडेंट्स ही  यह बार चलाते थे, और स्टूडेंट्स  ही खरीदते थे। मैंने जब मना किया तो एक टीनेजर लड़की ने फ्रूट मौक टेल बनवा मुझे टेस्ट करने को कहा। मैं ज़्यादा देर न बैठ वहाँ से चली क्योंकि मेरे पास छाता नहीं था और मुझे डर था कि वर्षा में मैं अपना कैमरा न खराब कर लूँ।

 

कुछ कदम चलने के बाद वर्षा बहुत तेज़ हो गई और मुझे लगभग 1 कि0मी0 चढ़ाई चढ़ अपार्टमैंट तक पहुँचना था। लिहाज़ा मैं यूनिवर्सिटी की बिल्डिंग जिसका दरवाज़ा खुला था वहाँ रूक गई। दो छोटी बच्चियाँ सफेद फ्रिल फ्राक में खेल खेल में बाहर जाती थीं जिन्हें बड़ा अंग्रेज व्यक्ति प्यार से वापिस ले आता था। एक उसकी टाँगों के बीच से निकल जाती। एक शादी में यह लोग इकट्ठे हुए थे। प्राइवेट अफेयर में मुझे दखल नहीं देना चाहिए इसलिए मैं काॅरीडोर में खड़ी बारिश रूकने का इंतज़ार कर रही थी। फिर भी एक फोटो उस फ्रैंच ब्राइड का खींच ही लिया। किसी हालीवुड मूवी के सीन से यह कम नहीं था।

IMG_0208

Part of University building where marriage ceremony was being solemnised

 

About -

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>


Powered By Indic IME

Hit Counter provided by orange county property management